नूतन गृह प्रवेश शुभ मुहूर्त 2020 – कौन सी महीने में कौन सी तारीख को गृह प्रवेश करें

grihpravesh-shubh-din-muhurat-in-hindi

गृह प्रवेश शुभ मुहूर्त में करनी चाहिए | इस पोस्ट में आप जानेंगे २०२० के कौन से माह में कौन से तिथि को नए घर में प्रवेश करनी चाहिए।

क्या आप अपने नए घर में प्रवेश करने जा रहे है? अगर हाँ, तो आपको अपने नए घर में शुभ मुहूर्त में और शुभ तारिक को प्रवेश करनी चाहिए। ऐसा कहा जाता है कि हमें अपने घर में शुभ तिथि को और शुभ मुहूर्त में ही प्रवेश करनी चाहिए। अगर आप शुभ मुहूर्त में अपने नए घर में प्रवेश करते है तो आपका नया घर आपके लिए अपार खुशियां लाएगी। हम इस लेख में आपको नए घर में प्रवेश करने की शुभ दिन, शुभ तारीख और शुभ मुहूर्त के बारे में बताएंगें।

Table of Contents

आइये जानते है 2020 के नूतन गृह प्रवेश शुभ मुहूर्त और शुभ तारीख के बारे में

हिन्दू कैलेंडर के अनुसार कुछ खास दिन होते है नए घर में प्रवेश करने के लिए। अतः, अगर आप नए घर में प्रवेश करने के बारे में सोंच रहे है तो आपको शुभ दिन और शुभ मुहूर्त में शिफ्ट करने चाहिए।

अगर आप अपनी नये घर में शुभ तारीख और शुभ मुहूर्त के प्रवेश करते है तो आपका गृहस्थ जीवन सुखद रहेगा। आपके घर सकारात्मक ऊर्जा से भरा रहेगा। बुरी शक्तियां और नकारात्मक ऊर्जा हमेशा आपके घर से दूर रहेगी।

साल 2020 में गृह प्रवेश शुभ मुहूर्त, शुभ तिथि और शुभ दिन

यदि आप साल 2020 में अपने नए घर में प्रवेश की योजना बना रहे हैं तो, आप नीचे दिए गए शुभ मुहूर्त और शुभ तारीख की सूचि देखें। यह गृह प्रवेश शुभ मुहूर्त और तारीख की सूचि आपके लिए निश्चित रूप से फायदेमंद हो सकती है। यहाँ हम साल 2020 के हर महीने में कौन सी तारीख को, किस नक्षत्र में गृह प्रवेश करनी चाहिए इसके बारे में बतायेगें।

जनवरी 2020 में गृह प्रवेश के लिए शुभ दिन

January-House-Moving-Dates

जनवरी 2020 में सिर्फ दो शुभ दिन है नए घर में प्रवेश करने के लिए। जनवरी माह के 29 और 30 तारीख को शुभ मुहूर्त उपलब्ध है नए घर में प्रवेश करने के लिए। यानी की जनवरी 29, 2020 और जनवरी 30, 2020 नए घर में प्रवेश के लिए शुभ दिन है।

गृहप्रवेश मुहूर्त 29 जनवरी, 2020

  • शुभ मुहूर्त – दोपहर 12 बजकर 14 मिनट से अगले दिन सुबह 7 बजकर 11 मिनट तक
  • तिथि – पंचमी
  • नक्षत्र – उत्तरा भाद्रपदा

गृहप्रवेश मुहूर्त 30 जनवरी, 2020

  • शुभ मुहूर्त – सुबह 7 बजकर 11 मिनट से दोपहर 1 बजकर 19 मिनट तक
  • तिथि – पंचमी
  • नक्षत्र – उत्तरा भाद्रपदा

फरवरी 2020 में गृह प्रवेश के लिए शुभ दिन

February-Grih-Pravesh-Dates

फरवरी माह में 4 दिन है गृह प्रवेश के लिए शुभ – 3 फरवरी, 5 फरवरी, 13 फरवरी और 26 फरवरी। अगर आप इन चार दिनों में से किसी एक दिन को अपने नए घर में प्रवेश करते है तो यह आपके के लिए शुभ और लाभकारी होगा।

गृहप्रवेश मुहूर्त 3 फरवरी, 2020

  • शुभ मुहूर्त – सुबह 12 बजकर 52 से अगले दिन सुबह 07 बजकर 08 मिनट
  • तिथि – दशमी
  • नक्षत्र – रोहिणी

गृहप्रवेश मुहूर्त 5 फरवरी, 2020

  • शुभ मुहूर्त – सुबह 12 बजकर 52 से अगले दिन सुबह 07 बजकर 08 मिनट
  • तिथि – एकादशी
  • नक्षत्र – मृगशीर्षा

गृहप्रवेश मुहूर्त 13 फरवरी, 2020

  • शुभ मुहूर्त – सुबह 9 बजकर 25 मिनट से रात 8 बजकर 46 मिनट तक
  • तिथि – पंचमी
  • नक्षत्र – चित्रा

गृहप्रवेश मुहूर्त 26 फरवरी, 2020

    • शुभ मुहूर्त – सुबह 6 बजकर 50 मिनट से अगले दिन सुबह 4 बजकर 11 मिनट तक
    • तिथि – उत्तरा भाद्रपदा, रेवती
    • नक्षत्र – तृतीया
Also Read:  Move Safely and Soundly with Packers and Movers Pune

मार्च 2020 में गृह प्रवेश के लिए शुभ दिन

March-Shubh-Din-for-Grih-Pravesh

साल 2020 के मार्च माह में पांच शुभ दिन है गृह प्रवेश करने के लिए  – 9 मार्च, 11 मार्च, 12 मार्च, 18 मार्च और 19 मार्च। हमारा सुझाव यही है कि आप इन्ही पांच शुभ दिनों में से किसी एक दिन को गृह प्रवेश और गृह प्रवेश पूजा करें। ऐसा करने आपके लिए शुभ और बहुत ही लाभकारी होगा।

गृहप्रवेश मुहूर्त 9 मार्च, 2020 

  • शुभ मुहूर्त – सुबह 1 बजकर 9 मिनट से अगले दिन सुबह 6 बजकर 36 मिनट तक
  • तिथि – प्रतिपदा
  • नक्षत्र – उत्तरा फाल्गुनी

गृहप्रवेश मुहूर्त 11 मार्च, 2020

  • शुभ मुहूर्त – सुबह 7 बजे से अगले दिन सुबह 6 बजकर 34 मिनट तक
  • तिथि – तृतीया
  • नक्षत्र – चित्रा

गृहप्रवेश मुहूर्त 12 मार्च, 2020

  • शुभ मुहूर्त – सुबह 6 बजकर 34 मिनट से सुबह 11 बजकर 58 मिनट तक
  • तिथि – तृतीया
  • नक्षत्र –  चित्रा

गृहप्रवेश मुहूर्त 18 मार्च, 2020

  • शुभ मुहूर्त – सुबह 1 बजकर 1 मिनट से अगले दिन सुबह 6 बजकर 26 मिनट तक
  • तिथि – दशमी, एकादशी
  • नक्षत्र – उत्तरा आसाढ़ा

गृहप्रवेश मुहूर्त 19 मार्च, 2020

  • शुभ मुहूर्त – सुबह 6 बजकर 26 मिनट से दोपहर 2 बजकर 50 मिनट तक
  • तिथि – एकादशी
  • नक्षत्र – उत्तरा आसाढ़ा

अप्रैल 2020 में गृह प्रवेश के लिए शुभ दिन

April-Dates-for-Housewarming

साल 2020 के अप्रैल महीनें में सिर्फ दो दिन है शुभ नए घर में प्रवेश करने के लिए। तारीख 25 और 27 बहुत ही शुभ दिन है अप्रैल माह में गृह प्रवेश करने के लिए। अतः आप इन्ही दो दिनों में से किसी एक दिन चुने अगर आप अप्रैल माह में शिफ्ट करने की सोच रहे हैं।

गृहप्रवेश मुहूर्त 25 अप्रैल 2020

  • शुभ मुहूर्त – रात 8 बजकर 58 मिनट से अगले दिन सुबह 5 बजकर 45 मिनट तक
  • तिथि – तृतीया
  • नक्षत्र – रोहिणी

गृहप्रवेश मुहूर्त 27 अप्रैल 2020

  • शुभ मुहूर्त – दोपहर 2 बजकर 29 मिनट से अगले दिन सुबह 12 बजकर 30 मिनट तक
  • तिथि – पंचमी
  • नक्षत्र – मृगशीर्ष

मई 2020 में गृह प्रवेश के लिए शुभ दिन

May-Shubh-Din-for-House-Moving

8, 18 और 23 तारीख का दिन शुभ है मई माह 2020 में गृहप्रवेश करने के लिए। यह तीन 3 दिन में किस एक दिन को अपनी सहूलियत के अनुसार आप चुन सकते है गृह प्रवेश के लिए।

गृहप्रवेश मुहूर्त 8 मई 2020

  • शुभ मुहूर्त – सुबह 8 बजकर 38 मिनट से अगले दिन सुबह 5 बजकर 34 मिनट तक
  • तिथि – प्रतिपदा, द्वितीया
  • नक्षत्र – अनुराधा

गृहप्रवेश मुहूर्त 18 मई 2020

  • शुभ मुहूर्त – सुबह 5 बजकर 29 मिनट से दोपहर 3 बजकर 8 मिनट तक
  • तिथि – एकादशी
  • नक्षत्र – उत्तरा भाद्रपदा

गृहप्रवेश मुहूर्त 23 मई 2020

  • शुभ मुहूर्त – सुबह 12 बजकर 17 मिनट से अगले दिन 5 बजकर 26 मिनट तक
  • तिथि – द्वितीया
  • नक्षत्र – रोहिणी

जून 2020 में गृह प्रवेश के लिए शुभ दिन

June-Shubh-Days-for-House-Moving

अगर आप जून माह में गृह प्रवेश करने की सोच रहे है तो 15 जून को गृह प्रवेश शुभ मुहूर्त उपलब्ध है। इसके अलावा कोई और शुभ दिन नहीं इस माह में नए घर में शिफ्ट करने के लिए।

गृहप्रवेश मुहूर्त 15 जून 2020

  • शुभ मुहूर्त – 0सुबह 5 बजकर 23 मिनट से अगले दिन सुबह 3 बजकर 18 मिनट तक
  • तिथि – दशमी
  • नक्षत्र – रेवती

जुलाई 2020 में गृह प्रवेश के लिए शुभ दिन

July-Home-Shifting-Auspicious-Days

इस साल जुलाई माह में कोई भी शुभ दिन नहीं है गृह प्रवेश के लिए।

अगस्त 2020 में गृह प्रवेश के लिए शुभ दिन

August-Dates-for-Grih-Pravesh

इस साल अगस्त माह में कोई भी शुभ दिन उपलब्ध नहीं नए घर में प्रवेश करने के लिए।

सितम्बर 2020 में गृह प्रवेश के लिए शुभ दिन

September-House-Moving-Auspicious-Dates

इस साल के सितम्बर माह में भी को शुभ दिन उपलब्ध नहीं है गृह प्रवेश के लिए।

अक्टूबर 2020 में गृह प्रवेश के लिए शुभ दिन

October-Dats-for-Moving-into-a-New-Home

अक्टूबर माह में कोई गृह प्रवेश का शुभ मुहूर्त नहीं है। अतः इस माह में को भी शुभ दिन नहीं है नए घर में शिफ्ट करने के लिए।

नवंबर 2020 में गृह प्रवेश के लिए शुभ दिन

November-Dates-for-Grihpravesam

नवंबर माह में 4 दिन बहुत ही शुभ है नए घर में प्रवेश करने के लिए। गृह प्रवेश के लिए नवंबर 2020 में शुभ दिन है – 16 नवंबर, 19 नवंबर, 25 नवंबर और 30 नवंबर

गृहप्रवेश मुहूर्त 16 नवंबर, 2020

  • शुभ मुहूर्त – सुबह 7 बजकर 6 मिनट से दोपहर 2 बजकर 37 मिनट तक
  • तिथि – द्वितीया
  • नक्षत्र – अनुराधा

गृहप्रवेश मुहूर्त 19 नवंबर, 2020

  • शुभ मुहूर्त – सुबह 9 बजकर 39 मिनट से सुबह 9 बजकर 59 मिनट तक
  • तिथि – पंचमी
  • नक्षत्र – उत्तरा आसाढ़ा

गृहप्रवेश मुहूर्त 25 नवंबर, 2020

  • शुभ मुहूर्त – सुबह 6 बजकर 52 मिनट से अगले दिन सुबह 5 बजक 10 मिनट तक
  • तिथि – एकादशी
  • नक्षत्र – उत्तरा भाद्रपदा, रेवती

गृहप्रवेश मुहूर्त 30 नवंबर, 2020

  • शुभ मुहूर्त – सुबह 2 बजकर 59 मिनट से अगले दिन सुबह 6 बजकर 57 मिनट तक
  • तिथि – प्रतिपदा
  • नक्षत्र – रोहिणी
Also Read:  Top 27 Best Packers and Movers in Wakad (Pimpri Chinchwad)

दिसंबर 2020 में गृह प्रवेश के लिए शुभ दिन

december-dates-for-home-entering

साल 2020 के अंतिम माह यानि की दिसंबर माह में शुभ मुहूर्त है नए घर में प्रवेश करने के लिए।  4 शुभ दिन है गृह प्रवेश के लिए दिसंबर माह में – 10 दिसंबर, 16 दिसंबर, 17 दिसंबर, और 23 दिसंबर। अगर इन चार दिनों में से किस एक दिन को आप अपने घर में शिफ्ट करते है तो यह आपके लिए लाभकारी होगा।

गृहप्रवेश मुहूर्त 10 दिसंबर, 2020

  • शुभ मुहूर्त – सुबह 10 बजकर 51 मिनट से अगले दिन सुबह 7 बजकर 4 मिनट तक
  • तिथि – दशमी, एकादशी
  • नक्षत्र – चित्रा

गृहप्रवेश मुहूर्त 16 दिसंबर, 2020

  • शुभ मुहूर्त – रात 8 बजकर 4 मिनट से अगले दिन सुबह 7 बजकर 8 मिनट तक
  • तिथि – तृतीया
  • नक्षत्र – उत्तरा आसाढ़ा

गृहप्रवेश मुहूर्त 17 दिसंबर, 2020

  • शुभ मुहूर्त – सुबह 7 बजकर 8 मिनट से दोपहर 03 बजकर 17 मिनट तक
  • तिथि – तृतीया
  • नक्षत्र – उत्तरा आसाढ़ा

गृहप्रवेश मुहूर्त 23 दिसंबर, 2020

  • शुभ मुहूर्त – रात 8 बजकर 39 मिनट से अगले दिन सुबह 4 बजकर 33 मिनट तक
  • तिथि – दशमी
  • नक्षत्र – रेवती

गृह प्रवेश क्या है और ये क्यों जरुरी है शुभ मुहूर्त में करना ?

मनुष्य के लिए घर होना जरुरी होता है। घर चाहे अपना हो या फिर किराये का, घर घर होता है। जब हम किसी घर में पहली बार प्रवेश करते है तो हमारा मन नई आशा, नए सपने और नई उमंग से भरा होता है।

जब घर अपना होता है तो यह किसी सपने से तनिक भी कम नहीं होता है। अपनी घर का मतलब अपनी एक छोटी सी दुनिया, जहाँ हम भिन्न भिन्न तरह के सपने संजोते है। पहली बार अपने नई घर में शिफ्ट करना एक ऐसा अहसास होता है जिसे हम शब्दों में बयां नहीं कर सकते।

यह एक ऐसा पल होता है जिसे हम ताउम्र के लिए यादगार बना देना चाहते है। हमें अपने नए घर से ढेर साड़ी अपेक्षाएं होती है। हमारी यही कामना होती है कि हमार नया घर अपार खुशियां लाये। नया घर हमारे लिए प्रगतिकारक हो,मंगलमयी हो और साथ में यश, सुख, समृद्धि, सौभाग्य और खुशियों की सौगात दे।

grih-pravesh-kya-hai

लेकिन कई बार यह देखा गया है कि आपको अपनी नयी दुनिया रास नहीं आने लगती है। घर में बेवजह कलह और क्लेश होने लगता है। और इस तरह से आपके सारे सपने बिखरने लगते हैं। आखिर क्या कारण हो सकता है इसका?

आइये जानते है इसका कारण।

हमारे ख्याल से इसका प्रमुख कारण हो सकता है – आपने अपने नए घर में प्रवेश करने से पहले गृह प्रवेश पूजा नहीं किया हो या सही तरीके से नहीं किया हो।

यह भी हो सकता है कि गृह प्रवेश के दौरान अनजाने में वास्तु पूजा नहीं कि हो या फिर वास्तु नियमों का पालन नहीं किया हो। इनके अलावा यह भी हो सकता है कि आपने नए घर में शुभ दिन को प्रवेश नहीं किया हो।

इन बातो का भी ध्यान रखे नए घर में प्रवेश करने के लिए या गृह प्रवेश के दिन को चुनने के लिए।

गृह प्रवेश के लिए शुभ माह (महीना)

  • माघ, फाल्गुन, वैसाख और ज्येष्ठ माह को गृह प्रवेश के लिए बहुत ही शुभ माना जाता है।
  • आषाढ़, श्रावण, भाद्रपद, आश्विन, और पौष माह को गृह प्रवेश के लिहाज से शुभ नहीं माना जाता है।

गृह प्रवेश के लिए शुभ दिन

  • अगर दिन की बात करें तो, मंगलवार के दिन को गृह प्रवेश को शुभ नहीं माना जाता है।
  • रविवार और शनिवार को भी गृह प्रवेश के लिए (विशेष परिस्थितियों में) वर्जित माना गया है।
  • खासकर, गुरुवार के दिन को गृह प्रवेश के लिए बहुत ही शुभ दिन माना गया है।
  • सप्ताह के बाकी दिन जैसे की सोमवार, बुधवार, गुरुवार और शुक्रवार को गृह प्रवेश के लिए उपयुक्त और शुभ दिन माना गया है।
  • अमावस्या और पूर्णिमा को भी गृह प्रवेश नहीं करनी चाहिए।
  • अमावस्या और पूर्णिमा को छोड़कर शुक्लपक्ष तिथि द्वितीया, तृतीया, पंचमी, सप्तमी, दशमी, एकादशी और त्रयोदशी को गृह प्रवेश के लिए शुभ और सही दिन बताया गया है।

जाने कितने प्रकार के होते है गृह प्रवेश?

हिन्दू शास्त्रों के अनुसार, पूजा का बहुत ही महत्त्व होता है। चाहे गृह प्रवेश हो या नयी दूकान का शुभारम्भ हो, हर कार्य में पूजा का एक अलग महत्त्व होता है।  चाहे आप लक्ष्मी पूजा करना चाहते हो या गणेश पूजा, आपको पूजा मन से, पूरी श्रद्धा से और सच्ची आस्था के साथ करनी चाहिए।

गृह प्रवेश पूजा का एक अलग ही महत्त्व होता है क्योंकि ये वो दिन होता है जब आप एक नए घर में प्रवेश करते है। और इस लिहाज से, ने घर की शान्ति और समृद्धि के लिए गृह पूजा करना अनिवार्य माना गया है।

Also Read:  India’s Logistics Sector Expected to Reach Worth USD 215 Billion by 2020-21

क्या आप जानते है कि गृह प्रवेश कितने प्रकार के होते है? हिन्दू शास्त्रों के अनुसार,गृह प्रवेश निम्नलिखित तीन प्रकार के होते है।

1. अपूर्व गृह प्रवेश

अपूर्व गृह प्रवेश उसे कहते है जब कोई व्यक्ति पहली बार नयी बयान गए घर में प्रवेश करते है।

2. सपूर्व गृह प्रवेश

कई बार कुछ लोग किसी कारणवश अपने परिवार के साथ किसी दूसरी जगह (शहर) में अपने घर को खाली छोड़ कर रहने के लिए चले जाते है। जब वे फिर से अपने घर में वापस चाहते है तो उसके पहले भी गृह पूजा और घर शान्ति पूजा करवाते है। ऐसी गृह प्रवेश पूजा को सपूर्व गृह प्रवेश कहा जाता है।

3. द्वान्धव गृह प्रवेश

कभी कभी कुछ लोगो को अपने घर को किसी परेशानी या आपदा के वजह से कुछ समय के लिए छोड़ना पड़ता है। जब वे दोबारा उस घर में प्रवेश करते है तो सबसे पहले वे गृह पूजा और घर शांति पूजा करवाते है। ऐसी पूजा को द्वान्धव गृह प्रवेश कहते है।

गृह प्रवेश पूजा सामग्री लिस्ट

  • कलश – 1
  • मिट्टी के बड़ा दीया – 1
  • श्री फल या नारियल – 1
  • साबुत चावल – 1 किलो 250 ग्राम
  • पंच मेवा – 250 ग्राम
  • पंच मिठाई – 500 ग्राम
  • पांच ॠतु फल – श्रद्धा अनुसार
  • शक्कर (गुड़) – 250 ग्राम
  • आटा – सवा किलो
  • देशी घी – 1 किलोग्राम
  • गंगाजल – 1 लीटर
  • पान के पत्ते – 7
  • आम या अशोक के पत्ते – 11 पत्ते
  • आम की लकडियां – 2 किलोग्राम
  • लकड़ी का चौकी – 1
  • लाल कपडा – सवा मीटर
  • पीला कपड़ा – सवा मीटर
  • हवन कुंड – 1
  • हवन सामग्री – 1किलो ग्राम
  • धूप -1पैकेट
  • अगरबत्ती – 1 पैकेट
  • काले तिल – 250 ग्राम
  • जौ – 250 ग्राम
  • फूल माला, फूल – 5
  • रोली या कुमकुम – 1 पैकेट
  • साबुत हल्दी – 100 ग्राम
  • लौंग – 10 ग्राम
  • इलाइची – 10 ग्राम
  • सुपारी – 11
  • मौली – 1 गोली
  • जनेऊ – 7
  • दही – 100 ग्राम
  • कच्चा दूध – 100 ग्राम
  • शहद – 250 ग्राम
  • रूई – 1पैकेट
  • कपूर – 11 टिक्की
  • दोने – 1 पैकेट

अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न

प्रश्न: नए घर में प्रवेश के लिए कौन कौन से दिन (वार) शुभ होते है?

उत्तर: सोमवार, बुधवार, गुरुवार और शुक्रवार को गृह प्रवेश के लिए शुभ माना गया है।  वैसे आपको पंडित जी से शुभ मुहूर्त की जानकारी लेकर ही नए घर में शिफ्ट करनी चाहिए।

प्रश्न: कौन कौन सी तिथियां गृह प्रवेश के लिए शुभ होती है?

उत्तर: हिन्दू पंचांग के अनुसार शुक्लपक्ष की द्वितीया, तृतीया, पंचमी, सप्तमी, दशमी, एकादशी, द्वादशी, व त्रयोदशी को गृह प्रवेश के ख्याल से शुभ माना गया है।

प्रश्न: गृह प्रवेश के लिए शुभ नक्षत्र कौन  है?

उत्तर: अमावस्या और पूर्णिमा को छोड़कर शुक्लपक्ष तिथि द्वितीया, तृतीया, पंचमी, सप्तमी, दशमी, एकादशी और त्रयोदशी को गृह प्रवेश के लिए शुभ और सही दिन बताया गया है।

प्रश्न: किस दिन को गृह प्रवेश के लिए शुभ नहीं माना गया है?

उत्तर: मंगलवार को गृह प्रवेश के लिए शुभ नहीं माना गया है।  रविवार और शनिवार को भी गृह प्रवेश के लिए (विशेष परिस्थितियों में) वर्जित माना गया है।

प्रश्न: सप्ताह के किस दिन को गृह प्रवेश के लिए सबसे सही और शुभ दिन माना गया है?

उत्तर: गुरुवार के दिन को गृह प्रवेश के लिए बहुत ही शुभ दिन माना गया है।

प्रश्न: क्या  अमावस्या या पूर्णिमा को नए घर में शिफ्ट करना चाहिए ?

उत्तर: नहीं। आपको अमावस्या और पूर्णिमा को नये घर में शिफ्ट नहीं करनी चाहिए।  अमावस्या और पूर्णिमा को गृह प्रवेश के लिए सही दिन नहीं माना गया है।

प्रश्न: क्या गृह प्रवेश पूजा करवाना जरुरी है ? गृह प्रवेश पूजा नहीं करवाने का क्या नुकसान है?

उत्तर: गृह  प्रवेश पूजा (गृह शांति पूजा ) बहुत ही जरूरी है नए घर में प्रवेश करने से पहले। ऐसा माना जाता  है कि गृह प्रवेश पूजा नहीं करवाने से घर में सदैव कलह कलेश होते रहता है, स्वस्थ्य पर बुरा असर पड़ता है और घर में बरकत नहीं होती है।

Downloads

Griha Pravesh Puja Vidhi PDF – Download Here

List of Items Required for Griha Pravaesh PDF- Download Here

Griha Pravesh Pula Samagri List in Hindi PDF – Download Here.

Griha Pravesh Mantra in Hindi PDF Format – Download Here.

Rabish Kumar

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *