मूविंग सोलूशन्स – एक परिचय

moving-solutions-ek-parichary

Movingsolutions.in की  स्थापना 2006 ईस्वी में श्री दीपेश कुमार के द्वारा की  गई  थी । पहले यह packersandmover.com के नाम से जानी जाती थी । 2006में इस पोर्टल को बनाने का विचार इसीलिए आया क्योंकि उस समय कोई  पैकर्स एंड मूवर्स  का  पोर्टल नहीं था जहाँ पर ग्राहक जाकर कॉम्पिटिटिव कोटेशन  ले सकता था।

यह विचार मूविंग सोलुशन के फाउंडर के मन में आते ही उन्होंने इस पर काम करना शुरू कर दिया और लगभग 1 महीने  के अथक परिश्रम और शोध के बाद एक वेबसाइट बनायीं।

सबसे पहले इसमें दिल्ली, गुडगाँव ,फरीदाबाद, नॉएडा और ग़ाज़ियाबाद  के पैकर्स एंड मूवर्स  कंपनी के लोगों  को पंजीकृत किया। उसके बाद पुणे, मुंबई , बैंगलोर, हैदराबाद, चेन्नई और कोलकाता के पैकर्स एंड मूवर्स की  कम्पनियों को पंजीकृत करने का काम शुरू किया गया।

विश्वसनीय पैकर्स एंड मूवर्स को पंजीकृत किया

पंजीकृत करते समय यह ध्यान रखा गया कि जो भी पैकर्स एंड मूवर्स  कंपनी हमारे साथ जुड़े उनके प्रामाणिक दस्तावेज की छायाप्रति हमारे पास हो। जिससे कि पंजीकृत कंपनियों का डाटा सुरक्षित रहे और किसी भी प्रकार की असुविधा होने पर दस्तावेजों के सहारे उन कंपनियों पर विधिसम्मत कार्रवाई की जा सके। यह दस्तावेज ग्राहकों के लिए एक सुरक्षा कवच का काम करेगा।

कंपनी का विस्तार

समय के साथ लोग जुड़ते गए और जो कंपनी सिर्फ ३ लोग से शुरू हुई  थी  उसमें 2010 आते आते 50 लोग काम करने लगे क्योंकि इस कंपनी का काम देखते देखते कश्मीर से कन्याकुमारी तक और गुवाहाटी से लेकर गुजरात तक फ़ैल चूका था।

Also Read:  India’s Logistics Sector Expected to Reach Worth USD 215 Billion by 2020-21

इस बीच कंपनी ने अपने दो ब्रांच पटना और जयपुर में भी खोले। कंपनी ने हमेशा ग्राहक और वेंडर्स यानी की पैकर्स मूवर्स कंपनी के प्रति अपनी प्रतिबद्धता दिखाई। जब भी किसी ग्राहक कि शिकायत आती तो ग्राहक सेवा प्रतिनिधि तुंरत इस पर पैकर्स मूवर्स कंपनी से बात करके निपटारा करते। इसी दौरान हमने कई पैकर्स मूवर्स कंपनी को ब्लैकलिस्ट भी किया , ताकि हमारे मूविंगसोलूशन्स.इन के कस्टमर को कोई परेशानी नहीं हो।

कार्य करने की शैली

हमारे अच्छे कार्य करने के कारण हमसे अपने आप और दूसरों से अच्छा फीडबैक मिलने के चलते निरंतर लोग हमसे जुड़ते चले गए। इस बीच 2014 में हमने ओटीपी वेरिफिकेशन करना शुरू कर दिया जिससे कि हमारे पास फर्जी इन्क्वारी आने की सम्भावना ना रहे।  इससे हमारी गुणवत्ता दिन प्रतिदिन अच्छी होती चली गयी। हमारे पास  चंडीगढ़ की शिवगंगा पैकर्स मूवर्स, गुडगाँव की हरिओम पैकर्स मूवर्स जो कि 2006 में पंजीकृत हुए थे आज भी लगातार 13 वर्षो के बाद भी बने हुए हैं।

यह हमारे कार्य पद्धत्ति को दर्शाने के लिए काफी है।  कंपनी ने 2014 में ही ग्राहकों  और पैकर्स मूवर्स कंपनी की सुविधा के लिए टोल फ्री नंबर लांच किया जिसका नंबर 1800116878 है।  साथ ही साथ मोबाइल नंबर 9911918545 जो कि 2006 से सेवारत  है। कम्पनी अपनी वेबसाइट के साथ साथ मोबाइल नंबर और टोल फ्री नंबर से भी ग्राहकों को सेवा प्रदान करने का काम करती है।

समय के साथ टेक्नोलॉजी बदलती गयी और 2019 में कंपनी ने अपना मोबाइल एप्प लांच किया जो की गूगल के प्लेस्टोर पर उपलब्ध है। अब हमारी कंपनी ग्राहक को पैकर्स मूवर्स कंपनी से 1 मिनट के अंदर कनेक्ट करने का काम करती है। कंपनी अपना काम 365 दिन लगातर करती है, बिना रुके और बिना थके।

Also Read:  Moving Solutions - Leveraging Technology to Metamorphose India's Relocation Industry

होली हो या दिवाली,ईद हो या क्रिसमस हम अपना काम बंद नहीं करते हैं। सुबह आठ बजे से रात के दस बजे तक हम ग्राहक को सेवा प्रदान करने वाली कंपनी से मिलाने का काम करते रहते हैं।

2019 में कंपनी ने पेस्ट कण्ट्रोल से सम्बंधित काम शुरू किया जो कि अभी दिल्ली, नोएडा, ग़ाज़ियाबाद , फरीदाबाद , गुडगाँव और चेन्नई में अपनी सेवाएं दे रही है। इस से सम्बंधित हमने एक अलग से वेबसाइट भी बनायीं जिसका नाम getpestcontrol.in है। हालाँकि पेस्ट कण्ट्रोल से सम्बंधित सारी सूचनाएं हमारी मूविंगसोलूशन्स.इन पर भी उपलब्ध है।

अब आपके मन में पैकर्स मूवर्स के बारे में कुछ प्रश्न उठते होंगे उसके जवाब कुछ इस प्रकार है —

१. पैकर्स एंड मूवर्स कंपनी का चुनाव करते समय हमें किन बातों का ख्याल रखना चाहिए ?

उत्तर : पैकर्स एंड मूवर्स कंपनी का चुनाव करते समय हमें उन कंपनी का रिव्यु देखना चाहिए , साथ ही साथ उनके वेबसाइट पर जाना चाहिए और देखना चाहिए कि  उसके कांटेक्ट पेज पर कोई लैंडलाइन नंबर है या नहीं। अगर लैंडलाइन नंबर है तो इसका मतलब कि वो कंपनी उस जगह पर मौजूद है इस बात की तस्दीक होती है। हमें उनके लैंडलाइन पर बात भी करनी चाहिए।  इन तीन बातों का ध्यान रखने कि जरुरत है। इन सब असुविधाओं से बचने के लिए आप movingsolutions.in का चुनाव कर सकते हैं जहाँ पर पहले से ही सत्यापित पैकर्स एंड  मूवर्स उपलब्ध हैं।

२. पैकर्स एंड मूवर्स पर GST कितना पर्सेंट लगता है ?

उत्तर : पैकर्स एंड मूवर्स की सम्पूर्ण सेवा लेने जैसे की पैकिंग, अनपैकिंग, लोडिंग, अनलोडिंग और ट्रांसपोर्टेशन पर 18 पर्सेंट  जी एस टी लगता है और अगर आप सिर्फ ट्रांसपोर्ट सेवा का लाभ उठाते हैं तो आपको सिर्फ 5 पर्सेंट जी एस टी चार्ज किया जायेगा।

Also Read:  How to Start Your Own Packers and Movers Business in India?

३. पैकर्स एंड मूवर्स सेवा पर इन्शुरेंस चार्ज कितना लगता है ?

उत्तर : पैकर्स एंड मूवर्स सेवा पर 3 परसेंट और सिर्फ ट्रांजिट इन्शुरेंस लेने पर 1.5  पर्सेंट इन्शुरेंस चार्ज लगता है।

४. भारत के विभिन्न शहरों में घर शिफ्ट करने का संभावित चार्ज कितना लगता है ?

उत्तर :

शिफ्टिंग टाइप गाड़ी के प्रकार लोकल शिफ्टिंग चार्ज इंटरसिटी शिफ्टिंग चार्ज
1 RK टेम्पो (मिनी ट्रक) रुपये  2,500 – 7,000 रुपये 4,000 – 18,000
1 BHK छोटा ट्रक रुपये 3,000 – 9,000 रुपये 6,000 – 24,000
2 BHK 14 फ़ीट ट्रक रुपये 4,500 – 13,000 रुपये 8,000 – 28,000
3 BHK 17 फ़ीट ट्रक रुपये 6,000 – 18,000 रुपये  10,000 – 34,000
4/5 BHK 19 फ़ीट ट्रक रुपये  8,000 – 25,000 रुपये 15,000 – 48,000

५. कौन सी बातें मूविंगसोलूशन्स.इन को अन्य वेबसाइट से बेहतर बनाती है ?

उत्तर : मूविंगसोलूशन्स.इन के सारे पैकर्स एंड मूवर्स विभिन्न दस्तावेजों के आधार पर सत्यापित होते हैं। मूविंगसोलूशन्स.इन लगातार 13वर्षों से Packers and Movers की सेवाएं प्रदान कर रही है।

६. शिफ्टिंग चार्ज में कौन कौन से चार्ज प्रमुख होते हैं ?

उत्तर: इसमें मुख्य  रूप से निम्नलिखित चार्ज या शुल्क होते हैं :- पैकिंग चार्ज ,  अनपैकिंग चार्ज,  लेबर चार्ज ,  ट्रांसपोर्ट चार्ज एवम  अन्य चार्ज जैसे जी एस टी, इन्शुरेंस, टोल टैक्स इत्यादि।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *